कौरिनभांठा में मतदाता जागरूकता अभियान एवं नुक्कड़ नाटक का आयोजन

समाज कार्य विभाग शासकीय दिग्विजय महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ.आर एन. सिंह के निर्देशन एव ंप्रो. विजय मानिकपुरी के मार्गदर्शन में एक दिवसीय मतदाता जागरूकता अभियान एवं नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया। जिसमे प्राचार्य डाॅ. आर. एन. सिंह, डाॅ. शैलेन्द्र सिंह, प्रो. विजय मानिकपुरी आदि उपस्थित रहे कार्यक्रम का शुभारंभ मतदाता जागरूकता रैली कौरिनभांठा के महिलाएं एव ंसमाज कार्य विभाग के सभी विद्यार्थियों द्वारा मंदिर परिसर जैत खाम होते हुए उत्प्रेरक नारे जैसे-बुढ़े हो या जवान सभी करें मतदान वोट में अपना देकर आ ऊँगी चुनकर सरकार बनाऊँगी,जो चुनेगे सही जैसे अनेक नारे के साथ लोगों को प्रेरित किया गया।साथ ही समाज कार्य विभाग के विद्यार्थियों के द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरूक किया गया।
प्राचार्य ने कार्यक्रम का उद्देश्य को बताते हुये कहा कि सभी को मतदान करने के लिए प्रेरित में करना शत्-प्रतिशत मतदान में सबकी भागीदारी सुनिश्चित करना। स्वीप नोडल अधिकारी डाॅ.शैलेन्द्र सिंह ने एक अच्छे सरकार के निर्माण में हमारी एक-एक वोट की कीमत को बताया। प्रो. विजय मानिकपुरी नुक्कड़ के माध्यम से मतदाताओं को अपना अधिकार एवं अपने वोट की ताकत से स्वच्छ एवं सुन्दर वातावरण में सही प्रत्याशी व चयन का अधिकार हो इस उद्देश्य से चाहे यहां दिव्यांग हो शारिरीक,मानसिक या अन्य परंतु अपने मतअधिकार का प्रयोग अवश्य करें यह अपील भी किया गया एवं सभी को संकल्प लेकर पिछले बार का 58 प्रतिशत मतदान है। उसे शत्-प्रतिशत् करने अपील किया गया। रैली के समापन के पश्चात् शासकीय प्राथमिक शाला कौरिनभंाठा के मैदान के सामने समाज कार्य विभाग के विद्यार्थियों द्वारा एक नुक्कड़ नाटक का प्रदर्शन किया गया।इसका उद्देश्य मतदान में शत्-प्रतिशत् भागीदारी करना और नाटक का शीर्षक अब है मेरे वोट की बारी थी।
इस कार्यक्रम में श्री नीतिन हिरवानी सहायक विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी, हरीश चंद्राकर, ी संतोष यादव, सुदेश यादव एव ंसमाज कार्य विभाग के विद्यार्थी खुलासदास, अनुराग खलखो, बालमुकुन्द वर्मा, वंदना सिंह, शेफाली तिवारी, दुर्गेश, रोशन निर्मलकर , गजेन्द्र, लुकेश्वरी, केशरी, वर्षा, प्रगति, रत्ना, रश्मि, रूपा, कांति, रेणु, नीलम, पूजा, हरिश्चंद्र, आदित्य, भवजोत, विशम्भा, सावित्री,रजनी,साधना,एकता हेंमत ,डोमेश्वर,दीपक आदि सम्मिलित हुये।