समाजकार्य के विद्यार्थियों ने जाना औद्यौगिक भ्रमण से सामाजिक सरोकार एवं सुविधा और चुनौतियाँ

शास. दिग्विजय महाविद्यालय समाजकार्य विभाग के विद्यार्थियों ने प्रो. विजय मानिकपुरी के मार्गदर्शन में राजाराम मेज प्रोडक्ट फैक्ट्री का औद्योगिक भ्रमण किया इस अवलोकन में विद्यार्थियों ने कारखाने में होने वाले उत्पादन जैसे- ग्लूकोज, प्रोटीन, स्टार्च, मक्का से तेल एवं खली का उत्पादन के बारे में जानकारी प्राप्त किये। इस अवलोकन में विद्यार्थियों ने कारखाने में कार्यरत श्रमिको से मिलकर उनके आर्थिक स्थिति, सामाजिक स्थिति एवं रहन-सहन सम्बंधित स्थितियों के बारे में जानकारी प्राप्त किये। श्रमिको ने बताया कि हमेें कारखाने से रोजगार प्राप्त होने के कारण हमारी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हुई है। परिवार भी सकुशल स्थिति में पहुंचा है तथा बच्चों को अच्छी शिक्षा प्राप्त करने में सहायता मिली है हमें स्वास्थ्य बीमा के साथ-साथ पेंशन की भी सुविधा प्रदान की जाती है कारखाने में किसी भी प्रकार का शोषण श्रमिकों के साथ नहीं होता विद्यार्थियों ने वहां संचालित कृषि उत्पादन के साथ-साथ पाॅवर प्लांट का भी अवलोकन किये तथा वहां के कर्मचारियों से भी बात किये। टीम को कारखाने के मैनेजर श्री विक्रांत दिपक ने कारखाने की व्यवस्था तथा सुचारू रूप से संचालित एवं क्रियांवित करने में सभी कर्मचारी एवं श्रमिक एकजुट होकर कार्य करते है यह जानकारी दिये तथा तीन शिप्ट में कार्य और श्रमिको की संख्या लगभग 770 के आस-पास है जिनके द्वारा प्रतिदिन 150 टन उत्पाद का उत्पादन किया जाता है। अन्त में समाज कार्य विभाग के प्रो. विजय मानिकपुरी ने इस अवलोकन का महत्व बताते हुए इस औद्योगिक भ्रमण से विद्यार्थियों होने वाले उत्पादनों श्रमिको की आर्थिक, सामाजिक स्थिति व कर्मचारी श्रमिको के मध्य सम्बंध को अच्छे से जानने का प्रयास किया जाता और समाज के बीच सम्बंधों को जाना जाता है। इस औद्योगिक भ्रमण में समाज कार्य विभाग के समस्त छात्र-छात्राओं ने भाग लिया एवं प्रश्नोंउत्तरी फार्म के माध्यम से अध्ययन किया एवं आस-पास में होने वाले सुविधाओं को जानने का प्रयास किया तथा सभी विद्यार्थियों द्वारा यह औद्योगिक अवलोकन सार्थक बताया जिससे सामाजिक उत्तरदायित्व एवं सम्बंध को हम विद्यार्थी समझ पायेंगे।