प्रवेष हेतु मूल अंकसूची से संबंधित

राजनांदगांव! शासकीय दिग्विजय महाविद्यालय राजनांदगांव से प्राप्त जानकारी के अनुसार स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश के इच्छुक विद्यार्थियों को मूल अंकसूची न मिलने के कारण वे इंटरनेट से प्राप्त अंकसूची को अपने विद्यालय के प्राचार्य से प्रमाणित कराकर प्रवेश प्राप्त कर सकते है, किंतु उन्हे एक आवेदन इस इस आशय का प्रस्तुत करना होगा कि वे मूल अंकसूची आने पर उसका सत्यापन प्रवेश समिति के समक्ष करा लेवे, ऐसा न करने पर अस्थायी प्रवेश निरस्त माना जावेगा। अतः इंटरनेट की प्राचार्य से प्रमाणित अंकसूची पर अस्थायी प्रवेश दिया जा रहा है, ताकि प्रवेश में विलम्ब न हो, प्रवेश के समय स्थानान्तरण प्रमाण पत्र चरित्र प्रमाण पत्र, की मूलप्रति प्रस्तुत करना आवश्यक होगा।